लिपि माप:  image image image image image
राज्य सभा
कार्यावलि
डाउनलोड AcrobatReader                                                सत्र संख्या:246
(बुधवार,18 जुलाई 2018 से शुक्रवार,10 अगस्‍त 2018)
दिनांक: 16/08/2018 तक के अनुसार
महीनादिनांक
अगस्‍त 1 (152 Kb) | 1R (197 Kb) | 2 (183 Kb) | 2R (199 Kb) | 3 (268 Kb) | 3R (302 Kb) | 6 (254 Kb) | 7 (142 Kb) | 7R (238 Kb) | 7S (124 Kb) | 7SS (139 Kb) | 8 (174 Kb) | 8R (327 Kb) | 9 (141 Kb) | 9R (327 Kb) | 10 (190 Kb) | 10R (253 Kb)
जुलाई 18 (175 Kb) | 19 (152 Kb) | 19R (218 Kb) | 20 (246 Kb) | 20R (289 Kb) | 23 (195 Kb) | 24 (181 Kb) | 24R (217 Kb) | 25 (160 Kb) | 25R (218 Kb) | 25S (138 Kb) | 26 (152 Kb) | 26R (249 Kb) | 26S (138 Kb) | 27 (216 Kb) | 30 (181 Kb) | 30R (205 Kb) | 31 (151 Kb) | 31R (196 Kb)
note R- दिवस की संशोधित कार्यावलि को दर्शाता है।
S- दिवस की अनुपूरक कार्यावलि को दर्शाता है।
नोट- कार्यावलि में किसी दिवस को राज्य सभा द्वारा विचारार्थ लिए जाने वाले कार्यों की मुख्य मदें शामिल होती हैं और सामान्यत: इसे सत्रावधि के दौरान प्रतिदिन बैठक की तारीख से दो दिन पहले जारी किया जाता है। अंतिम कार्य सूची संशोधित कार्यावलि में शामिल होती है, जिसे (सोमवार को छोड़कर) बैठक से एक दिन पहले जारी किया जाता है। अनुपूरक कार्यावलि उसी दिन अल्प सूचना पर विचारार्थ ली जा रही किन्हीं अतिरिक्त मदों को दर्शाने के लिए जारी की जाती है। कार्यावलि पटल कार्यालय में तैयार की जाती है।

सूचना देने के लिए उत्तरदायी अधिकारी

श्री मुकुल पाण्डे, अपर सचिव(एल) दूरभाष:23034693,23018044, ई-मेल:

श्री रोहतास, संयुक्‍त सचिव (टी) दूरभाष:23034668,23012083, ई-मेल:

श्री के. सुधाकरन, निदेशक (पटल) दूरभाष: 23035445, ई-मेल:

सुश्री चित्रा जी.,उप सचिव (पटल) , दूरभाष: 23034697, 23034581, ई-मेल:

बैठकों की अस्थाई सारणी के संबंध में सूचना देने के लिए उत्तरदायी अधिकारी

श्री मुकुल पांडे, अपर सचिव (एल), दूरभाष:23034693,23018044, ई-मेल:

विधायी अनुभाग, दूरभाष: 23034727, ई-मेल:

नोट: बैठकों की अस्थाई सारणी, राज्य सभा के प्रत्येक सत्र के लिए संसदीय कार्य मंत्रालय के साथ समन्वय करके तैयार की जाती है। इसमें सरकारी कार्य और गैर-सरकारी विधेयकों/ संकल्पों को दर्शाया जाता है। इसके अलावा, इसमें संसदीय प्रश्नों का उत्तर दिये जाने के लिए उत्तरदायी मंत्रालयों/विभागों के समूह का ब्यौरा भी होता है।