राज्‍य सभा  
संसदीय समाचार भाग - 2
              
सं.  57562 बृहस्‍पति‍वार, 1 मार्च 2018                                              युगपत् भाषांतरण सेवा
संविधान की आठवीं अनुसूची में दर्ज कुछ भाषाओं में दिये गये भाषणों के युगपत् भाषान्तरण की व्यवस्था

                  

                सभा की समूची कार्यवाही के हिन्दी से अंग्रेजी तथा अंग्रेजी से हिन्दी में भाषान्तरण की व्यवस्था के अतिरिक्त निम्नलिखित आठ भाषाओं में दिए गए भाषणों के, नीचे दी गई प्रक्रिया के अधीन रहते हुए, अंग्रेजी तथा हिन्दी दोनों में युगपत्  भाषान्तरण की व्यवस्था है :-

1.                                           बांग्ला

2.                                          गुजराती

3.                                          कन्नड़

4.                                          मलयालम

5.                                          पंजाबी

6.                                          तमिल

7.                                          तेलुगु

8.                                          उर्दू

प्रक्रिया-

(1)          वाद-विवाद के दौरान किए गए भाषणों का उपर्युक्त भाषाओं से अंग्रेजी           तथा हिन्दी में भाषान्तरण किया जायेगा।

(2)         इन भाषाओं का अंग्रेजी और हिन्दी में भाषान्तरण, प्रश्न-काल के तुरन्त          पहले जब विविध मामलों जो कार्यावली में दर्ज नहीं होते, उपलब्ध नहीं          होगा, और न यह नियमित वाद-विवाद के मध्य की गई टिप्पणियों,                कथनों अथवा अन्तर्बाधाओं के लिए उपलब्ध होगा;

(3)         जो सदस्य उपर्युक्त भाषाओं में से किसी भाषा में भाषण देना चाहते हैं वे          कृपया इस बारे में सभा पटल पर अधिकारी को कम से कम एक  घंटा        पहले सूचना दें तथा यह भी बतायें कि वे किस भाषा में भाषण देना चाहते         हैं;

(4)         हिन्दी भाषान्तरण चैनल 2 और 5 से प्रसारित किया जाएगा और अंग्रेजी          चैनल 3 और 6 से प्रसारित किया जाएगा। चैनल 1 और 4 सभा में बोली   जाने वाली भाषा के लिए निर्धारित है।

देश दीपक वर्मा
महासचिव