राज्‍य सभा  
संसदीय समाचार भाग - 2
              
सं.  55401 सोमवार, 25 अप्रैल 2016                                              विधायी अनुभाग
सरकारी विधान और अन्य कार्य, जिसे राज्य सभा के दो सौ उनतालीसवें सत्र के दौरान लिए जाने की संभावना है, से संबंधित विवरण

                सरकारी विधान और अन्य कार्य, जिसे राज्य सभा के दो सौ उनतालीसवें सत्र के दौरान लिए जाने की संभावना है, को दर्शाने वाला विवरण (इसे सम्पूर्ण न समझा जाए) संलग्न है:-

I - विधान कार्य

(क)  लोक सभा द्वारा यथा पारित और राज्य सभा की प्रवर समिति द्वारा यथा प्रतिवेदित-विधेयक पर विचार के प्रस्ताव पर चर्चा समाप्त नहीं हुई (1)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किये जाने वाले प्रस्ताव

 

1.

संविधान (एक सौ बाईसवां) संशोधन विधेयक, 2014

 

11.08.2015 को लोक सभा द्वारा यथा पारित और राज्य सभा की प्रवर समिति द्वारा यथा प्रतिवेदित विधेयक  पर विचार का प्रस्ताव उपस्थित किया गया।

देश में वस्तु एवं सेवा कर (जी.एस.टी.) को प्रारंभ करना सुकर बनाने के लिए संविधान में संशोधन करना।

विचार तथा पारण के लिए


() लोक सभा द्वारा यथापारित विधेयक - राज्य सभा में लंबित (7)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किया जाने वाला प्रस्ताव

1.

विनियोग अधिनियम (निरसन) विधेयक, 2015

 

विधेयक, लोक सभा द्वारा पारित रूप में  11.05.2015 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया।

विनियोग अधिनियमों (विनियोग (रेल) अधिनियमों सहित) का निरसन करना।

विचार तथा पारण के लिए

2.

सूचना प्रदाता संरक्षण (संशोधन) विधेयक, 2015

लोक सभा द्वारा यथा पारित विधेयक पर विचार किये जाने का प्रस्ताव 07.12.2015 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया लेकिन चर्चा समाप्त नहीं हुई।

सूचना प्रदाता संरक्षण अधिनियम, 2011 का संशोधन करना।

आगे विचार तथा पारण के लिए

3.

निरसन और संशोधन (तीसरा) विधेयक, 2015

लोक सभा द्वारा यथापारित विधेयक 07.08.2015 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया।

कतिपय अधिनियमों का निरसन और कतिपय अन्य अधिनियमों का संशोधन करना।

विचार तथा पारण के लिए विधेयक

4.

भारतीय न्यास (संशोधन) विधेयक, 2015

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

लोक सभा द्वारा यथा पारित विधेयक, 10.12.2015 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया।

केंद्रीय सरकार को न्यासियों द्वारा ऐसी प्रतिभूतियों में न्यास-धन का विनिधान करने के प्रयोजन के लिए प्रतिभूतियों के वर्ग को अधिसूचित करने हेतु समर्थ बनाना और अधिनियम में पुरानी और अप्रचलित प्रतिभूतियों के निर्देश को हटाना।

विचार तथा पारण के लिए विधेयक

5.

उद्योग (विकास और विनियम) संशोधन विधेयक, 2015

लोक सभा द्वारा यथा पारित विधेयक 11.12.2015 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया।

उद्योग (विकास और विनियम) अधिनियम, 1951 की प्रथम अनुसूची की मद संख्या 26 "खमीर उद्योग (पेय मद्यसार के अतिरिक्त)" को प्रतिस्थापित करने के लिए विधि आयोग के प्रतिवेदन को कार्यान्वित करना।

विचार तथा पारण के लिए विधेयक

6.

खान और खनिज (विकास और विनियमन) संशोधन विधेयक, 2016

 

 

लोक सभा द्वारा यथा पारित  विधेयक 16.3.2016 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया।

नीलामी के माध्यम से भिन्न माध्यम से प्रदत्त आबद्ध खनन पट्टों के हस्तांतरण के लिए उपबंध करना ताकि विधि सम्मत व्यवसायिक सौदों को सुकर बनाया जा सके और खनिज विष्ठाओं के पाटन सहित पट्टा क्षेत्र के दायरे का विस्तार करने के लिए "पट्टाधीन क्षेत्र" को परिभाषित किया जा सके।

विचार तथा पारण के लिए

7.

संविधान (अनुसूचित जाति) आदेश (संशोधन) विधेयक, 2016

लोक सभा द्वारा यथा पारित विधेयक 16.3.2016 को राज्य सभा के पटल पर रखा गया।

छत्तीसगढ़, हरियाणा, केरल, ओडिशा और पश्चिमी बंगाल में अनुसूचित जातियों की सूची में कतिपय समुदायों को शामिल करना और बाहर करना।

 

विचार तथा पारण के लिए

() लोक सभा द्वारा यथा पारित - राज्य सभा की प्रवर समिति को सौंपा गया विधेयक (1)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किया जाने वाला प्रस्ताव

 

1.

शत्रु संपत्ति (संशोधन और विधिमान्यीकरण) विधेयक, 2016

 

 

 

 

 

 

 

 

लोक सभा द्वारा यथा पारित विधेयक 15.3.2016 को राज्य सभा की प्रवर समिति को सौंपा गया।

यह सुनिश्चित करना कि शत्रु संपत्ति अभिरक्षक में, भारत में शत्रु संपत्ति के अभिरक्षक में निहित रहेगी और शत्रु संपत्ति (संशोधन और विधिमान्यकरण) द्वितीय अध्यादेश, 2016 (2016 का सं.3) को प्रतिस्थापित करना।

प्रतिवेदन के प्रस्तुतीकरण और सभी आवश्यक औपचारिकताओं के पूरा होने और 2016 के अध्यादेश सं.3 के जारी होने के दृष्टिगत अपेक्षित संशोधनों सहित विचार तथा पारण के लिए।

() राज्य सभा में पुर:स्थापित विधेयक - स्थायी समितियों को सौंपा गया और उसका प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया (1)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किए जाने वाला प्रस्ताव

1.

यान हरण निवारण विधेयक, 2014

17.12.2014 को राज्य सभा में  पुर:स्थापित।

विभाग संबंधित परिवहन, पर्यटन और संस्कृति संबंधी संसदीय स्थायी समिति का प्रतिवेदन 11.03.2015 को प्रस्तुत किया गया।

यान हरण के षड़यंत्रकर्ताओं और दुष्प्रेरकों को भी यान हरण निवारण अधिनियम, 1982 के अधिकार क्षेत्र में लाना और यान-हरण के दंड के रूप में 'शास्तियों' को शामिल करना।

विचार तथा पारण के लिए

(.) लोक सभा में उद्भूत विधेयक- स्थायी समिति को नहीं सौंपे गए (2)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किए जाने वाला प्रस्ताव

1.

वित्त विधेयक, 2016

2016-17 के वर्ष के लिए नियमित बजट के भाग के रूप में कर प्रस्ताव।

लोक सभा द्वारा पारित किए जाने के पश्चात् विचार किए जाने तथा लौटाए जाने के लिए

2.

प्रादेशिक जैव प्रौद्योगिकी केन्द्र विधेयक, 2016

प्रादेशिक जैव प्रौद्योगिकी केन्द्र फरीदाबाद को राष्ट्रीय महत्व का संस्थान घोषित करने और इसे सांविधिक निकाय बनाने के लिए प्रस्ताव विधान को अधिनियमित किया जाना अपेक्षित।

लोक सभा द्वारा पारित किए जाने के पश्चात् विचार तथा पारण  के लिए

() लोक सभा में पुर:स्थापित विधेयक-संयुक्त समिति को सौंपा गया (1)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किए जाने वाला प्रस्ताव

 

1.

दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता, 2015

विधेयक लोक सभा में 21.12.2015 को पुर:स्थापित किया गया और 23.12.2015 को संयुक्त समिति को सौंपा गया। कारपोरेट व्यक्तियों, भागीदारी फर्मों और व्यष्टियों के पुनर्गठन और दिवाला समाधान से संबंधित विधियों का समयबद्ध रीति में ऐसे व्यक्तियों की आस्तियों के अधिकतम मूल्य के लिए समेकन तथा संशोधन करने, उद्यमता, उधार की उपलब्धता और सभी पणधारियों के हितों के संतुलन का संवर्धन करने, जिसके अन्तर्गत सरकारी शोध्यों के संदाय की पूर्विकता के क्रम में परिवर्तन भी है तथा दिवाला तथा शोधन अक्षमता निधि की स्थापना करना और उससे संबंधित या उससे आनुषंगिक विषयों का उपबंध करना।

लोक सभा द्वारा पारित किए जाने के पश्चात् विचार तथा पारण  के लिए।

()   लोक सभा में उद्भूत विधेयक - स्थायी समिति को सौंपे गए और समिति ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया (2)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किए जाने वाला प्रस्ताव

 

1.

लोकपाल और लोकायुक्त और अन्य संबंधित विधि (संशोधन) विधेयक, 2014

18.12.2014 को लोक सभा में पुर:स्थापित।

कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, विधि और न्याय संबंधी स्थायी समिति का प्रतिवेदन 07.12.2015 को प्रस्तुत किया गया।

लोकपाल और लोकायुक्त अधिनियम, 2013 का संशोधन करना।

लोक सभा द्वारा विधेयक पारित होने के पश्चात् विचार तथा पारण के लिए।

2.

प्रतिकरात्मक वनरोपण निधि विधेयक, 2015

08.05.2015 को लोक सभा में पुर:स्थापित किया गया। विधेयक को 22.05.2015 को विभाग संबंधित विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पर्यावरण और वन संबंधी स्थायी समिति को सौंपा गया और समिति का प्रतिवेदन 26.02.2016 को प्रस्तुत किया गया। भारत के लोक लेखाओं या प्रत्येक राज्य के लोक लेखाओं के अधीन एक निधि की स्थापना और उसमें प्रतिकरात्मक वनरोपण, अतिरिक्त प्रतिकरात्मक वनरोपण, शास्तिक प्रतिकरात्मक वनरोपण, शुद्ध वर्तमान मूल्य मद्दे उपयोक्ता अभिकरणों से प्राप्त धन और वन (संरक्षण) अधिनियम, 1980 के अधीन ऐसे अभिकरणों से वसूल की गई अन्य सभी रकमों को जमा करने;  निधि के प्रशासन के लिए राष्ट्रीय स्तर पर और प्रत्येक राज्य और संघ राज्यक्षेत्र प्रशासन में प्राधिकरण के गठन और कृत्रिम पुनरुत्पादन (पादबागानरोपण), सहायता प्राप्त प्राकृतिक पुनरुत्पादन, वन संरक्षण, वन संबंधी अवसंरचना विकास, हरित भारत कार्यक्रम, वन्य जीव संरक्षण कार्य करने के लिए इस प्रकार संगृहीत धनराशियों का उपयोजन और अन्य संबंधित क्रियाकलापों तथा उनसे संबंधित या उनके आनुषंगिक विषयों का उपबंध करना।

लोक सभा द्वारा विधेयक पारित होने के पश्चात् विचार तथा पारण के लिए।

()  नए विधेयक (3)

क्र.सं.

विधेयक का नाम

स्थिति/प्रयोजन

सत्र के दौरान उपस्थित किए जाने वाला प्रस्ताव

1.

भारतीय प्रबंध संस्थान विधेयक, 2015

प्रबंधन, प्रबंधनशोध और ज्ञान के संबंधित क्षेत्रों में विश्वस्तरीय उत्कृष्टता के मानक हासिल करने हेतु कतिपय प्रबंधन संस्थानों को संशक्त बनाने के लिए उन्हें राष्ट्रीय महत्व का संस्थान घोषित करना और इन संस्थानों से संबंधित अथवा आनुषंगिक कतिपय मामलों का उपबंध करना।

पुर:स्थापन के  लिए

2.

सिविल और दंड प्रक्रिया संबंधी कार्यवाहियों, लापता व्यक्तियों और मानव अवशेष की पहचान में डीएनए आधारित प्रौद्योगिकी का उपयोग और विनियमन विधेयक 2016

पूर्वत: डीएनए पहचान विधेयक, 2016

इस विधेयक का उद्देश्य मानवशरीर के तत्वों के प्रोफाइल का डिऑक्सीराइबोस न्यूक्लेसिक एसिड विश्लेषण के उपयोग का विनियमन करना और प्रयोगशालाओं, मानव शरीर के तत्वों के संग्रह, संग्रह से रिपोर्टिंग तक की कस्टडी ट्रेल हेतु मानक निर्धारित करने के लिए डीएनए प्रोफाइलिंग बोर्ड स्थापित करना और राष्ट्रीय डीएनए डाटा बैंक की भी स्थापना करना तथा तत्संबंधी और उसके आनुषंगिक मामलों का उपबंध करना।

पुर:स्थापन के  लिए

3.

भारतीय रिजर्व बैंक (संशोधन) विधेयक, 2016

मूल अधिनियम में संशोधन करना

पुर:स्थापन के  लिए

 

II - वित्तीय कार्य

() 2016-17 के लिए बजट (रेल)

1.       लोकसभा द्वारा विधेयक पारित किए जाने के पश्चात् 2016-17 की अनुदान मांगों (रेल) से संबंधित विनियोग विधेयक पर विचार तथा उसे लौटाया जाना।

 () 2016-17 के लिए बजट (सामान्य)

2.      लोकसभा द्वारा विधेयक पारित किए जाने के पश्चात् 2016-17 की अनुदान मांगों (सामान्य) से संबंधित विनियोग विधेयक पर विचार तथा उसे लौटाया जाना।

 () 2016-17 के लिए राज्य बजट (उत्तराखंड)

3.      लोकसभा द्वारा विधेयक पारित किए जाने के पश्चात उत्तराखंड विनियोग (लेखानुदान) विधेयक, 2016 पर विचार तथा उसे लौटाया जाना।

शमशेर के. शरीफ
महासचिव